डिलीवरी को गति देने के लिए अमेज़न ने नेटवर्क बनाया, हॉलिडे क्रंच को हैंडल किया

मिलिए पराग अग्रवाल से जो बने है ट्विटर के नए सीईओ

Star Health IPO : क्या आपको निवेश करना चाहिए? जानिए अभी

Omicron वैरिएंट के मरीजों के ऑक्सीजन स्तर में नहीं दिखी गिरावट

‘जो शीशे के घरों में रहते हैं…’: नवजोत सिंह सिद्धू ने चुनावी वादों को लेकर अरविंद केजरीवाल पर तंज कसा

YRF का OTT की तरफ रुख: यशराज फिल्म्स के ओटीटी वेंचर के लिए 500 करोड़ रुपये खर्च करेंगे आदित्य चोपड़ा, रणनीति का जल्द होगा खुलासा

0 0
Read Time:2 Minute, 52 Second

40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

2021-2022 के लिए अपने शानदार थिएट्रिकल स्लेट में पहले ही 1200 करोड़ का निवेश करने के बाद, भारत के सबसे बड़े प्रोडक्शन हाउस यश राज फिल्म्स ने एक नया बिजनेस वेंचर शुरू करने का फैसला किया है। YRF अब तेजी से बढ़ते भारतीय ओटीटी मार्केट में एंट्री करने जा रहा है। इंडस्ट्री में इस खबर को लेकर हलचल है कि आदित्य चोपड़ा की डिजिटल कंटेंट मार्केट को नया शेप देने का ग्रांड प्लान है और इसके मद्देनजर YRF की ओटीटी आर्म के लिए 500 करोड़ रुपये निर्धारित किया गया है जिसे YRF एंटरटेनमेंट कहा जाएगा

YRF जल्द ही अपनी रणनीति का खुलासा करेगा
एक ट्रेड सोर्स ने बताया, आदित्य चोपड़ा भारत में डिजिटल कंटेंट प्रोडक्शन के स्तर को ऊपर उठाने में अपना योगदान देना चाहते हैं। वह देसी (भारतीय) कहानियों के साथ विजन और स्टोरीटेलिंग के वैश्विक मानकों के साथ मैच करना चाहते हैं। वाईआरएफ में इन स्क्रिप्ट्स को स्थानीय तौर पर तैयार किया जा रहा है। हो सकता है कि यह मेमेंट, ओटीटी स्पेस को हमेशा के लिए बदल दे। वाईआरएफ की बड़ी योजनाएं हैं और वे जल्द ही अपनी रणनीति का खुलासा करेंगे। डिजिटल कंटेंट स्पेस में अब तक सामने आईं कुछ सबसे बड़ी घोषणाओं का इंतजार कीजिए।

भारत में ओटीटी स्पेस को ऊपर उठाना चाहते हैं
सूत्र ने आगे कहा, आदित्य चोपड़ा का मानना है कि ओटीटी में भारतीय कहानियों को सही मायने में, दुनिया के सामने रखने की क्षमता है। पहला और एकमात्र ट्रू ब्लू इंडियन स्टूडियो होने के नाते, वाईआरएफ वैश्विक दर्शकों को सबसे शानदार तरीके से बेहतरीन कहानियां पेश करना चाहता है। इस तरह के प्लेटफॉर्म्स अब भाषाई अड़चनों को दूर कर रहे हैं और विविध संस्कृतियों और प्रतिभाओं को दुनिया के सामने ला रहे हैं। आदित्य चोपड़ा गियर शिफ्ट करना चाहते हैं और अंतरराष्ट्रीय मानकों से मैच करने के लिए भारत में ओटीटी स्पेस को ऊपर उठाना चाहते हैं।

खबरें और भी हैं…

Source by [author_name]

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi