डिलीवरी को गति देने के लिए अमेज़न ने नेटवर्क बनाया, हॉलिडे क्रंच को हैंडल किया

मिलिए पराग अग्रवाल से जो बने है ट्विटर के नए सीईओ

Star Health IPO : क्या आपको निवेश करना चाहिए? जानिए अभी

Omicron वैरिएंट के मरीजों के ऑक्सीजन स्तर में नहीं दिखी गिरावट

‘जो शीशे के घरों में रहते हैं…’: नवजोत सिंह सिद्धू ने चुनावी वादों को लेकर अरविंद केजरीवाल पर तंज कसा

सम्मेलन का आयोजन: हमारी वृद्धावस्था का ख्याल रखते हुए टोकन सिस्टम लागू कराइए: पेंशनर्स

0 0
Read Time:2 Minute, 30 Second

भिंड8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में आयोजित सम्मेलन में शामिल हुए पेंशनर्स

भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में आयोजित सम्मेलन में पेंशनर्स द्वारा मांग की गई कि उनकी वृद्धावस्था का ख्याल रखते हुए पूर्व वर्षों की तरह टोकन सिस्टम लागू किया जाए तथा पेंशनर्स के लिए अलग लाइन यानी एक काउंटर की व्यवस्था कराई जाए जिससे उन्हें भुगतान लेने के लिए लंबे समय तक लाइन में खड़ा न होना पड़े।

इस पर बैंक के मुख्य प्रबंधक ऋषि खरे ने इसके लिए क्षेत्रीय कार्यालय को लिखेंगे वहां से अनुमति मिलने यह व्यवस्थाएं लागू करा दी जाएंगी। इसके साथ ही वृद्धजन के लिए एक व्हीलचेयर की व्यवस्था कराए जाने की भी मांग की गई। इस मांग को जल्दी पूरी किए जाने का आश्वासन दिया गया।

यहां बता दें भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में 12 हजार पेंशनर्स खाताधारक हैं। इनमें अधिकांश के द्वारा प्रतिमाह पेंशन की राशि निकाली जाती है। हालांकि इनके खातों में एटीएम की सुविधा है लेकिन वृद्धावस्था के कारण कई लोग अपने एटीएम को उपयुक्त नहीं मानते।

इधर बैंक शाखा में उपभोक्ताओं की जबरदस्त भीड़भाड़ होने की स्थिति में परेशानी का सामना करना पड़ता है। हालांकि इस बार बैंक प्रबंधन द्वारा लाइफ सर्टीफिकेट (जीवन प्रमाण पत्र) की प्रक्रिया को सरल किया गया। इसके लिए उप शाखा प्रबंधक जहांगीर खान द्वारा दो सदस्यीय टीम बनाई गई थी जिससे पेंशनर्स को लाइफ सर्टीफिकेट वेरीफिकेशन में 15- 20 मिनट का ही समय लगा। जबकि इसके पहले के सालों में इसी प्रकार को पूर्ण कराने में पेंशनर्स को घंटों लाइन में लगने को मजबूर होना पड़ रहा था।

खबरें और भी हैं…

Source link

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi