डिलीवरी को गति देने के लिए अमेज़न ने नेटवर्क बनाया, हॉलिडे क्रंच को हैंडल किया

मिलिए पराग अग्रवाल से जो बने है ट्विटर के नए सीईओ

Star Health IPO : क्या आपको निवेश करना चाहिए? जानिए अभी

Omicron वैरिएंट के मरीजों के ऑक्सीजन स्तर में नहीं दिखी गिरावट

‘जो शीशे के घरों में रहते हैं…’: नवजोत सिंह सिद्धू ने चुनावी वादों को लेकर अरविंद केजरीवाल पर तंज कसा

पुराने दोस्त और आज के राजनीतिक विरोधियों की मुलाकात: कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव और पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे के बीच हुई मुलाकात, घर पहुंचे अरुण

0 0
Read Time:4 Minute, 15 Second

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Damoh
  • Former Congress State President Arun Yadav And Former Finance Minister Jayant Malaiya’s Son Met, Arun Reached Home

दमोह7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया।

दमोह में काफी दिनों बाद राजनीतिक गलियारे से एक बार फिर दमोह चर्चाओं में है। बीते विधानसभा चुनाव के बाद अचानक ही बुधवार रात अरुण यादव दमोह पहुंचे और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा के कद्दावर नेता जयंत मलैया के बेटे के साथ उनके घर पर जाकर मुलाकात की। कुछ ही देर में चर्चा पूरे शहर में फैल गई और लोग तरह-तरह के कयास लगाने लगे, हालांकि कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव और पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया ने इस मुलाकात को पारिवारिक और मित्रवत बताया।

बता दे कि बीते विधानसभा उपचुनाव के दौरान पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया व उनके बेटे को पार्टी ने टिकट नहीं दी थी, जिसके बाद सिद्धार्थ मलैया ने बगावत शुरू कर दी थी। हालांकि उसके बाद सिद्धार्थ मलैया ने यह कहते हुए चुनाव लड़ने की बात समाप्त कर दी थी कि पार्टी के वरिष्ठ नेता और उनके पिता ने उन्हें आदेश दिया है कि वह पार्टी के साथ ही रहेंगे।

इस दौरान यह भी चर्चा सामने आई थी कि सिद्धार्थ मलैया कांग्रेस के संपर्क में है और कांग्रेस से चुनाव लड़ सकते हैं, लेकिन बाद में उन्होंने यह साफ कर दिया था कि वह केवल भाजपा के साथ ही रहेंगे। अभी कोई चुनाव सामने नहीं है लेकिन कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव सिद्धार्थ मलैया से मिलने उनके घर पहुंचे जिसे लेकर चर्चाएं फिर गर्म हो गई हैं।

अरुण यादव बोले, जयंत मलैया से मिलने आया था

जबलपुर से दमोह पहुंचे कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा कि मलैया उनके पारिवारिक सदस्य हैं। उनका स्वास्थ्य खराब होने की सूचना मिली थी। इसके बाद में उनकी जानकारी लेने के लिए यहां आना चाह रहे थे। उन्होंने सिद्धार्थ मलैया से बात की तो पता चला कि मलैया भोपाल में हैं, लेकिन इसके बाद सिद्धार्थ मलैया पर उनके घर सामान्य मुलाकात करने के लिए आए हैं। इसके अलावा इस मुलाकात के और कोई मायने नहीं हैं।

सिद्धार्थ बोले- अरुण मेरे सीनियर और मेरे दोस्त भी हैं

दो राजनीतिक विरोधियों की इस मुलाकात को लेकर जब सिद्धार्थ मलैया से बात की गई तो उन्होंने बताया कि अरुण यादव उनके सीनियर है, लेकिन उनके मित्रवत संबंध है। अरुण यादव के छोटे भाई बीच-बीच में उनके घर आकर मुलाकात करते रहते हैं, जिसकी जानकारी किसी को नहीं होती है।

उन्होंने कहा कि उनके पिता बीमार थे इसलिए वह देखने यहां पर आए थे। जब उन्हें पता चला कि अरुण दमोह में हैं और उनकी बात हुई तो उन्होंने कहा कि उन्हें घर आना पड़ेगा। इसलिए यादव उनसे मिलने के लिए घर पहुंचे हैं। उनकी इस मुलाकात के और कोई भी मायने नहीं हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi