जबलपुर आरटीओ अब ऐसे जेल भेजेंगे: ऑटो ड्राइवर को धमकाते हुए कहा- पुलिस की तरह 100 ग्राम गांजा रखवा कर जेल भेजवा देंगे

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Threatening The Auto Driver, He Said Like The Police, After Keeping 100 Grams Of Ganja, He Will Send Him To Jail, Video Surfaced

जबलपुर15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जबलपुर आरटीओ का प्रभारी देख रहे एआरटीओ संतोष पाल जेल भेजने के तरीके बता रहे हैं। उनका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह ऑटो ड्राइवर को खुलेआम धमकी दे रहे हैं। ऑटो ड्राइवर को बोल रहे हैं कि मेरी खोपड़िया खराब मत करो, अब दिखे तो पुलिस की तरह 100 ग्राम गांजा गाड़ी में रखवा कर जेल भेज दूंगा।

जबलपुर में लंबे समय से तैनात संतोष पाल का ये वीडियो 30 नवंबर की दोपहर का बताया जा रहा है। वीडियो में वह कार्यालय के सामने कुर्सी डालकर दरबार लगाए हुए दिख रहे हैं। आसपास परिसर में दलाली करने वाले और उनके कर्मचारी खड़े हैं। उसी समय ऑटो ड्राइवर की एंट्री होती है।

ऑटो ड्राइवर ने ही वीडियो बनाकर किया वायरल

ऑटो ड्राइवर प्रभारी आरटीओ संतोष पाल के पास पहुंचता है और कुछ बोलता है, उसकी बात वीडियो में स्पष्ट नहीं हो पा रही है। तब आरटीओ उखड़ते हुए उससे बोलते हैं कि मेरी खोपड़ियां खराब मत करो। फिर यहां दिखे तो जैसे पुलिस दुकान से चाकू रखकर आर्म्स एक्ट का केस लगा देती है। वैसे ही मैं भी 100 ग्राम गांजा रखकर तुम्हें जेल भिजवा दूंगा। इसके बाद उसे डांट कर भगा देते हैं। इस पूरे प्रकरण का वीडियो ऑटो ड्राइवर ने बनाते हुए सोशल मीडिया पर डाल दिया।

30 नवंबर की दोपहर कार्यालय के सामने बैठे आरटीओ की बद्जुबानी उन भारी पड़ती दिख रही है।

30 नवंबर की दोपहर कार्यालय के सामने बैठे आरटीओ की बद्जुबानी उन भारी पड़ती दिख रही है।

अक्सर विवादों से पड़ता है नाता

प्रभारी आरटीओ संतोष पाल का विवादों से अक्सर नाता पड़ता है। बीजेपी के कद्दावर नेता हरेंद्रजीत सिंह से वह भिड़ चुके हैं। तब पाल ने पूर्व विधायक से हुई बातचीत की वायस रिकॉर्डिंग वायरल कर दी थी। उस समय पूर्व विधायक की काफी फजीहत हुई थी और पार्टी स्तर पर उन्हें डांट भी पड़ी थी। मजबूरी में आरटीओ को हटाने के लिए दिया जा रहा धरना समाप्त करना पड़ा था। इसी तरह कई बार बस ऑपरेटरों से भी उनका विवाद हो चुका है। खुद को वो परिवहन मंत्री का खास बताते हैं।

बयान ने पकड़ा तूल, राजनीति भी गरमाई

परिवहन विभाग जैसी बड़ी कुर्सी पर आसीन संतोष पाल के इस बद्जुबानी ने राजनीतिक रंग ले लिया है। एक ऑटो ड्राइवर को जिस निम्न शब्दों में वह धमका रहे हैं, उससे पुलिस की कार्यप्रणाली को भी कटघरे में खड़ा कर दिया है। आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक डॉ. मुकेश जायसवाल ने सोशल मीडिया में इस वीडियो को पोस्ट करते हुए राज्य सरकार से ऐसे अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। पार्टी ने एक प्रेस वार्ता का भी आयोजन रखा है।

खबरें और भी हैं…

Source link

CofaNews

All Hindi News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *