खास बातचीत: ‘ह्यूमन’ की स्टार कीर्ति कुल्हारी बोलीं-अच्छी स्क्रिप्ट और किरदार मिल रहे हैं, इसलिए मुझे OTT से फायदा है

मुंबई9 मिनट पहलेलेखक: उमेश कुमार उपाध्याय

  • कॉपी लिंक

कीर्ति कुल्हारी स्टारर वेब सीरीज ‘ह्यूमन’ 14 जनवरी को ओटीटी प्लेटफॉर्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज होने जा रही है। इस सस्पेंस थ्रिलर सीरीज को विपुल शाह और मोजेज सिंह ने निर्देशित किया है। कीर्ति के अलावा सीरीज में शेफाली शाह, विशाल जेठवा, राम कपूर, सीमा बिस्वास, मोहन अगाशे जैसे कलाकार मुख्य भूमिकाओं में हैं। अब हाल ही में दैनिक भास्कर से खास बातचीत में कीर्ति कुल्हारी ने अपने किरदार और वेब सीरीज से जुड़ी कई खास बातें शेयर की हैं। पेश हैं कीर्ति से बातचीत के प्रमुख अंश –

स्क्रीन पर डॉक्टर के रोल में क्या करती नजर आएंगी?
जी हां, मेरा किरदार दिल की डॉक्टर सायरा सबरवाल का है। अपनी फील्ड में सायरा का नाम है। यह भोपाल में पली-बढ़ी हैं और इनके फादर कंपाउडर हैं। आई थिंक, इन्होंने वहां से मन बना लिया था कि मैं भी डॉक्टर बनकर सबकी मदद करूंगी। इन्होंने अपना सपना पूरा किया। सायरा अच्छी डॉक्टर है, पर ऐसा नहीं है कि उनकी अपनी खुद की प्रॉब्लम नहीं हैं। वह भी काफी चीजों से जूझ रही हैं। खासकर पर्सनल रिलेशनशिप को लेकर उनकी जद्दोजहद चलती रहती है। वे परफेक्ट इंसान हैं, ऐसा बिल्कुल नहीं है। जिस तरह से शो का नाम ह्यूमन है, उसी तरह वे ह्यूमन हैं।

स्क्रीन पर कैरेक्टर जीवंत करने की तैयारी कैसी रही?
इस किरदार के लिए राइटर-डायरेक्टर के साथ बैठकर डिस्कशन किया। मेरी बड़ी बहन आर्मी में डॉक्टर हैं, उनसे बात करके काफी इनपुट मिला। मैं कई अन्य डॉक्टर से भी मिली। मेरे मन में काफी सवाल होते थे। डॉक्टर के नजरिए से चीजों को समझने की कोशिश करती थी। हॉस्पिटल में एक जो हैरारकी होती है, जो एक सिस्टम होता है, उसको समझने की कोशिश करती थी। सायरा सबरवाल सर्जन है, सो उसके नजरिए से भी चीजों को समझने की कोशिश की थी। इसके अलावा साइकोलॉजिस्ट से मिली, उनसे भी इनपुट लिए। यह सब एक रिसर्च और होमवर्क का एक हिस्सा होता है। बहुत सारी इंफॉर्मेशन इकट्‌ठा की, तब जाकर कुछ-कुछ सायरा मेरे समझ में आई।

बतौर एक्ट्रेस इस शो की शानदार बात क्या रही?
हमें शो में काम करने के लिए जितना मसाला मिलता है, वह उतना ही सुंदर होता है। बतौर एक्टर की बात करूं, तब मेरे लिए सफेद कैरेक्टर सुंदर नहीं होता है। मुझे ग्रे कैरेक्टर बहुत पसंद है। जितना ग्रेनेस किरदार देखती हूं, उतना ह्यूमन लगता है और उतना ही ज्यादा मजा आता है।

ओटीटी प्लेटफॉर्म ने आप जैसे कलाकारों के लिए किस तरह से फायदा पहुंचाया है?
ओटीटी से फायदा ही फायदा है। अच्छी स्क्रिप्ट और अच्छे किरदार मिल रहे हैं। अच्छी कहानियां सामने आ रही हैं। नए-नए लोगों को काफी चांस मिल रहा है। आपको पूरी दुनिया बैठकर देखती है। ओटीटी की ऑडियंस सिर्फ इंडिया में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में है। इसमें बॉक्स ऑफिस का कोई डर नहीं है। आपका हिट और फ्लॉप होना बॉक्स ऑफिस के कलेक्शन पर डिपेंडेंट नहीं है। अगर आप अच्छे एक्टर हैं, तब आपको काम मिलेगा। मेरे ख्याल से यह ओटीटी की बहुत बड़ी खासियत है।

आपके अपकमिंग प्रोजेक्ट कौन से हैं?
अभी सिर्फ ‘फोर मोर शॉट्स’ के बारे में बता सकती हूं, वह इस साल के मध्य में आएगा। अभी तक वही है। बाकी कुछ नई चीजें शुरू कर रही हूं।

मनोरंजन जगत में किस तरह का बदलाव देखती हैं?
ओटीटी की वजह से नई कहानियां आ रही है। आई थिंक, लोगों में, ऑडियंस में ओपननेस आ रही है। सोसाइटी में हम बहुत चीजों को एक्सेप्ट कर रहे हैं, जिनसे कल तक हम कंफर्टेबल नहीं थे। एक सोच बदल रही है। आई थिंक, मनोरंजन जगत के लिए यह ग्रेट टाइम है। अगर आप अच्छी कहानियां कहना चाह रहे हैं, अच्छा किरदार प्ले करना चाह रहे हैं, तब यह बहुत बढ़िया वक्त है।

खबरें और भी हैं…

Source by [author_name]

CofaNews

All Hindi News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *