MP asks why netas are denied bank loans for being ‘politically exposed’, FM says no such stated policy | India News

10 times Raima Sen sizzled in bold look

Lara Dutta on being shocked when her 4-year-old daughter Saira spoke about divorce – Times of India

बैतूल में 33 छात्राओं की हालत गंभीर: मिड डे मील खाने के बाद से शुरू हुई पेट दर्द की शिकायत, अधिकारी से लेकर SDM सब अलर्ट

Covid In Bollywood Again: एक्टर Amit Sadh को हुआ Covid, फैंस से की ये अपील

खाद के लिए फिर फूटा किसानों का गुस्सा: दमोह-सागर स्टेट हाईवे और दमोह-हटा मार्ग पर लगाया जाम, अधिकारियों के समझाने के बाद हटाया जाम

0 0
Read Time:3 Minute, 13 Second

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Damoh
  • Jam Imposed On Damoh Sagar State Highway And Damoh Hata Road, After Persuading The Officials, The Jam Was Removed

दमोह11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

खाद के लिए विरोध जताते किसान।

जिले में किसानों के लिए खाद का संकट बना हुआ है। आए दिन यहां पर किसान खाद के लिए आंदोलन करने लगते हैं और सड़कों पर जाम लगाकर धरना शुरू कर देते हैं। बुधवार को दमोह-सागर स्टेट हाईवे और हटा मार्ग पर पथरिया ओवरब्रिज के समीप खाद न मिलने से परेशान होकर किसानों ने सड़क पर जाम लगा दिया और धरना देने बैठ गए। करीब 2 घंटे तक दोनों स्थानों पर किसान नारेबाजी करते रहे।

सूचना मिलने के बाद पुलिस व जिला प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और किसानों को समझाने का प्रयास किया। किसान सूरज लोधी ने बताया कि सुबह से वह लोग खाना-पीना लेकर खाद लेने के लिए पहुंच जाते हैं, लेकिन उन्हें खाद नहीं मिल रहा है। आज भी वह सुबह से कतार में खड़े हैं और अभी अधिकारियों ने आकर यह कहा है कि आज खाद का वितरण नहीं होगा।

किसानों ने यह भी आरोप लगाया कि अधिकारियों के पास खाद का स्टाक होने के बाद भी वह किसानों को खाद नहीं दे रहे हैं और ब्लैक में खाद बेच रहे है। हंगामे की सूचना मिलने के बाद सीएसपी अभिषेक तिवारी, दमोह तहसीलदार बबीता राठौर मौके पर पहुंची और किसानों की बात सुनी। इसके बाद तहसीलदार ने खाद के स्टाफ की जांच की। इसके बाद उन्होंने खाद्य वितरण शुरू कराया, तब जाकर किसानों ने जाम समाप्त किया।

कृषक सुदामा रजक ने बताया कि अधिकारी जानबूझकर किसानों को परेशान कर रहे हैं। जब चाहे किसानों को आंदोलन करने के लिए मजबूर होना पड़ता है और उसके बाद अधिकारी आकर यहां पर खाद वितरण शुरू कराते हैं। उन्होंने कहा कि खाद्य वितरण करने वाले अधिकारियों की मिलीभगत के कारण यह समस्या सामने आ रही है।

इस दौरान किसानों ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार एक तरफ तो खुद को किसान हितैषी सरकार बताती है, लेकिन बार-बार किसानों को परेशान किया जा रहा है। हालांकि अधिकारियों की समझाइश के बाद किसान मान गए और उन्होंने दोनों स्थानों पर जाम समाप्त कर दिया। फिलहाल खाद का वितरण जारी है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi