खरगोन में भाई ही निकला कातिल: नाबालिग आरोपी बोला- शराब पीकर आए दिन माता-पिता से करता था मारपीट, इसलिए मार डाला

खरगोनएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

जब्त किया गया सामान।

खरगोन जिले में थाना बड़वाह पर सूचना प्राप्त हुई थी कि जयन्तीमाता रोड फॉरेस्ट नाका नाके से करीब 1 किलोमीटर दूरी पर जेल रोड तरफ रोड किनारे से करीब 10 फीट दूरी पर एक अज्ञात युवक की की लाश पड़ी हुई थी। जिसकी सूचना थाना बड़वाह पर प्राप्त होते ही तत्काल पुलिस टीम रवाना हुई।

पुलिस टीम द्वारा घटनास्थल पर जाकर देखा गया, जहां रोड किनारे एक शव पड़ा हुआ था। मृतक ब्लू कलर की जींस व काले रंग की टी-शर्ट व सेंडल पहने हुए था और लाश की पीठ पर दो बडे़-बडे़ पत्थर रखे हुए थे।

मृतक उलटे मुंह पेट के बल पड़ा था। एक तरफ नाक, मुह और कान से खून निकल रहा था। प्रथम दृष्टिया घटना में किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा अज्ञात युवक की हत्या करना पाया जाने से थाना बड़वाह पर अपराध क्रमांक 644/21 धारा 302 भादवि का अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध कायम कर विवेचना में लिया गया।

हत्या की घटना की गंभीरता को देखते हुए खरगोन एसपी सिद्धार्थ चौधरी के निर्देशन में खरगोन एएसपी जितेन्द्रसिंह पंवार (ग्रामीण), खरगोन एएसपी (शहर) डॉ. नीरज चौरसिया एवं अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) अनुभाग बड़वाह विनोद कुमार दीक्षित के मार्गदर्शन मे पुलिस टीम का गठन कर हत्या का खुलासा करने और अज्ञात आरोपियों की पतारसी के लिए लगाया गया।

मृतक के फोटो को आसपास के गांवों में सोशल मीडिया के माध्यम से सूचना देकर अज्ञात मृतक की पहचान के लिए प्रचार-प्रसार किया गया। परिणामस्वरूप मृतक के पिता द्वारा शव की पहचान मृतक राजेश पुत्र बोदर जाति भिलाला (20) निवासी रामकुल्ला गांव के रूप में हुई।

विवेचना के दौरान घटनास्थल का निरीक्षण करते वहां कोई निशान नहीं मिले तथा लाश की स्थिति को देखते ऐसा प्रतीत होता है कि किसी जान-पहचान वाले ने ही मृतक की हत्या की है। घटनास्थल पर जो कच्ची महुआ शराब की थैलियां पड़ी थीं एवं एक थैली मृतक की जेब से मिली थी।

इससे यह स्पष्ट होता है कि वह शराब आसपास से ही खरीदी होगी और मृतक यहां तक अपने किसी पहचान वाले के साथ में ही आया होगा।

उक्त तथ्यों के आधार पर मृतक के गांव और आसपास के इलाके मे पूछताछ की गई, जिस पर एक साक्षी द्वारा बताया गया कि मृतक को रात में जिस बाइक पर देखा था, वह काले रंग की सीडी डीलक्स बाइक, जिसमें हाॅर्न लगे थे, जिसके हाॅर्न की आवाज सुनी थी जिस आधार पर मृतक के गांव राम कुल्ला व आसपास के क्षेत्र में उक्त हुलिए की बाइक की पतारसी करते उस बाइक का मृतक के भाई की होना पता चला।

शंका के आधार पर मृतक के भाई से पूछताछ की गई, जिसने पहले पुलिस को गुमराह किया। बाद में फिर से सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपने एक साथी के साथ मिलकर हत्या करना स्वीकार किया।

हत्या का कारण

आरोपियों द्वारा बताया गया कि मृतक शराब पीने का आदी था एवं आए दिन शराब के नशे में अपने माता-पिता व छोटे भाई के साथ लड़ाई-झगड़ा कर उन्हें परेशान करता था। मृतक की पत्नी भी उसकी लत से परेशान होकर करीब 1 साल पहले ही उसे छोड़कर मायके चली गई। घटना के करीब 7-8 दिन पहले भी मृतक ने अपने पिता के साथ मारपीट व गाली-गलौज की थी। इसी बात पर छोटे भाई ने उसकी हत्या की साजिश रचकर अपने साथी के साथ मिलकर अपने भाई की हत्या कर दी।

मृतक के भाई बाल अपचारी ने उसके साथी बाल अपचारी के साथ मिलकर उसके भाई राजेश की हत्या की योजना बनाई। मृतक का भाई मृतक राजेश को दोस्त को लेने जाने के बहाने विश्वास में लेकर घर से स्वयं की बाइक से काटकुट फाटा बडवाह लेकर आया।

बाद उसके साथी बालअपचारी के साथ मिलकर राजेश को अत्यधिक शराब पीलाकर सुनसान रास्ते जंगल में ले जाकर राजेश की मदहोशी की हालत में उसकी कनपट्टी पर पत्थर मारकर जमीन पर गिराकर उसकी पीठ एवं सिर पर बडे़-बडे़ पत्थर उठाकर पटक कर हत्या कर दी। घटना में प्रयुक्त काले रंग की डीलक्स बाइक को जब्त की गई है।

खबरें और भी हैं…

Source link

CofaNews

All Hindi News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *