क्या शाहरुख खान 15 दिसंबर से दीपिका पादुकोण और जॉन अब्राहम के साथ ‘पठान’ की शूटिंग करेंगे?

AP ICET 2021 Counselling begins, registration closes on December 10

bjp: Punjab polls 2022: अमरिंदर ने कहा बीजेपी के साथ सीट एडजस्टमेंट, सुखदेव सिंह ढींडसा की पार्टी जल्द होगी |

Tata Power and IIT-Madras collaborate on R&D and campus recruitment opportunities – Cofa News

खास बातचीत: वॉइस आर्टिस्ट राजेश कवा बोले-‘स्क्विड गेम 2’ पर काम शुरू, लीड कैरेक्टर की अवाज के लिए मैंने ‘मुन्ना भाई’ के सर्किट का लिया रेफरेंस

कोरोना के बूस्टर डोज की तैयारी: सरकार 10 दिन में जारी कर सकती है पॉलिसी; लोगों को हिदायत- अपनी मर्जी से तीसरा डोज न लें, सर्टिफिकेट नहीं मिलेगा

0 0
0 0
Read Time:4 Minute, 19 Second

  • Hindi News
  • National
  • India Will Soon Release Policy Document On Administering A Booster Dose Of Covid 19 Vaccine

नई दिल्ली9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

देश में कोरोना वैक्सीन के बूस्टर (तीसरे डोज) को लेकर पॉलिसी जल्द जारी की जाएगी। कोविड टास्क फोर्स के प्रमुख सदस्य डॉ. एनके अरोरा ने टाइम्स ऑफ इंडिया को ये जानकारी दी है। उनका कहना है ये पॉलिसी अगले 10 दिन में आ सकती है। इसमें उन लोगों की कैटेगरी बताई जाएगी, जिन्हें तीसरा डोज देने में प्राथमिकता दी जाएगी।

अरोरा ने लोगों को हिदायत भी दी है कि वे अभी अपनी मर्जी से बूस्टर डोज न लें, क्योंकि कोविन पर इसका रिकॉर्ड दर्ज नहीं होगा और कोई सर्टिफिकेट इश्यू नहीं किया जाएगा। अरोरा ने ये नसीहत इसलिए दी है, क्योंकि ऐसी खबरें आ रही हैं कि कई लोग चुपचाप तीसरा डोज ले रहे हैं। अरोरा ने बताया कि देशभर में सीरोपॉजिटिव स्टडी के मुताबिक अभी तक का वैक्सीनेशन कारगर रहा है और ऐसी कोई वजह सामने नहीं आई कि लोग चुपचाप वैक्सीनेशन के लिए भाग-दौड़ करें।

देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं
अरोरा के मुताबिक 85% लोगों को कम से कम पहला डोज लग चुका है। सीरोपॉजिटिव स्टडी के मुताबिक वैक्सीनेशन का पॉजिटिव असर रहा है। दिल्ली में 97% आबादी सीरोपॉजिटिव है। UP में 88% तेलंगाना में 85% आबादी सीरोपॉजिटिव है। अरोरा का कहना है कि देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। हर महीने 30-35 करोड़ डोज तैयार किए जा रहे हैं, लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि आप बिना वजह डोज लगवाएं।

अरोरा के मुताबिक देश में कोरोना के केस भी घट रहे हैं, ऐसे में ज्यादा चिंता की बात नहीं है। हम कई देशों के मुकाबले बेहतर स्थिति में हैं। अरोरा का बयान ऐसे समय आया है जब तेलंगाना के स्वास्थ्य अधिकारियों समेत कई अफसर खुले तौर पर तीसरे डोज की पैरवी कर चुके हैं। वे कह रहे हैं कि कमजोर इन्यूनिटी वाले लोगों को तीसरा डोज लेना चाहिए।

दूसरे डोज के 6 महीने बाद बूस्टर डोज लेना सही रहेगा
कोवैक्सिन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक के MD डॉ. कृष्णा एल्ला कह चुके हैं कि दूसरा डोज लेने के 6 महीने बाद बूस्टर डोज लेना सही रहेगा। हालांकि, इस बारे में आखिरी फैसला सरकार को लेना है। बता दें अमेरिका समेत कई देशों ने कोरोना वैक्सीन का बूस्टर (तीसरा डोज) देना शुरू कर दिया है, लेकिन भारत में अभी इसकी शुरुआत नहीं हुई है।

12 करोड़ लोगों का दूसरा डोज ओवरड्यू
देश में ऐसे 12 करोड़ लोग हो गए हैं जिन्होंने तय शेड्यूल पर कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज नहीं लिया है। ये जानकारी स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने दी है। उन्होंने राज्यों से अपील की है कि सभी को मिल जुलकर कोशिश करनी चाहिए ताकि कोई वैक्सीन के बिना न छूटे। इससे पहले 20 अक्टूबर को नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने बताया था कि तय समय पर दूसरा डोज नहीं लेने वाले लोगों की संख्या 10 करोड़ है। यानी एक महीने से भी कम समय में यह आंकड़ा 2 करोड़ बढ़ गया है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi